मंगलवार, 30 अक्तूबर 2012

Super Storm Sandy

Super Storm Sandy

 पृथ्वी के ऊपर जल है .जल के ऊपर अग्नि और अग्नि के ऊपर वायु .वायु के ऊपर आकाश है 

.जब जल और वायु विक्षुब्ध होतें हैं तो ज्यादा घातक हो जाते हैं दोनों के परस्पर संघर्षं से 

चिंगारियां निकलतीं हैं जो 

अग्नि का ही रूप हैं .आकाश में लटका बादल जल का ही रूप है .पृथ्वी जिस समुन्दर को धारे हुए 

है वह खुद एक ताप इंजन की तरह काम करने लगता है .ऊर्जा अंतरित करता रहता है समुन्दर 

वायुमंडल में .आखिर सूरज सबको देता है ,समुन्दर को छप्पर फाड़ के देता है जिसमें  जल की 

अपार राशि है.जल में  ऊष्मा समोए रखने का अपार गुण है .सबसे ज्यादा है उसकी ऊष्मा 

धारिता .सबसे ज्यादा होती है जल की विशिष्ट ऊष्मा .समुन्दर से ऊर्जा ग्रहण कर हवा ऊपर 

उठती है बहुत ऊपर उठकर गोल गोल घुमने लगती 
है बवंडर सी ,एक विद्युत् धारण करती है इस नर्तन से .इसी विद्युत् के साथ में  चला आता है 

एक चुम्बकीय क्षेत्र 

जो तूफ़ान लिए आता 
                                                                                                                                     
है .        

शरीर के भीतर भी जल है ,वायु  है आकाश है ,अग्नि है ,.शरीर के भीतर यदि ये पञ्च  तत्व 

विक्षुब्ध हो 

जाएं तो पागलपन की स्थिति आ जाती है .

और यदि प्रकृति में यही तत्व विक्षुब्ध हो जाएं तो आंधी और तूफ़ान ,झंझावात की स्थिति आती 

है ,जो कभी चक्रवात कहातें हैं उष्ण कटिबंधी और कभी  हरीकेन (हुरिकैन ),कभी टाइफून और 

कभी 

सुनामी .



ये निश्चित और तात्विक नाम नहीं हैं .स्थानीय हैं .अलग अलग देशान्तरों पर अलग अलग नाम 

रूप ले लेतें हैं .इनका नामकरण भी ऐसे किया जाता है जो अधिक भय पैदा न करे .

साइक्लोन ,हुरीकेन और टाइफून तात्विक रूपसे एक ही हैं नामकरण  तय होता है स्थानीयता से 

,कहाँ पैदा हुए दिखे ये चक्रवात बोले तो बवंडर हवा के बगूले .कितने देशांतर पर .कौन  से  

समुन्दर के गिर्द .

सुनामी आती है समुन्दर के बहुत नीचे subduction earthquake से दो प्लेटों 

 के परस्पर एक दूसरे  पर आरोहण  से .महाद्वीपों  को कमर पे लादे फिरतीं  हैं प्लेटें .इन्हीं के 

संघर्षण से भूकम्प आतें हैं .(Theory of plate tectonics).

A cyclone is both the name for the whirling, organised storms we call a hurricane 

or tyfoon  as well as the name for storms in the Indian ocean.

तकनीकी तौर पर सभी हुरिकैन यद्यपि साइक्लोन ही होतें हैं लेकिन सभी साइक्लोन (चक्रवात 

,बवंडर )हुरिकैन नहीं होते .अंतर वायु के प्रचंड वेग से पैदा होता है .

केवल वही  चक्रवात हुरिकैन (हरिकेन )कहाते हैं जिनकी विंड स्पीड कमसे कम 74 मील प्रति 

घंटा या और भी ज्यादा रहती है .

Cyclones, hurricanes and typhoons are all essentially the same thing, they simply receive different names depending on where they occur. == == == -- Hurricane: a violent wind which has a circular movement, especially found in the West Atlantic Ocean. A hurricane is actually a violent storm formed with water which causes heavy rains and fierce winds and they can cause flooding of streets and homes. -- Cyclone: a violent tropical storm or wind in which the air moves very fast in a circular direction. They can be formed over tropical waters, bar the Southeast Pacific and the South Atlantic Oceans. Technically, all hurricanes are cyclones but not all cyclones are hurricanes: if their wind speed is over 74 miles per hour, they're hurricanes, if not, they're just cyclones or tropical storms. 

(ज़ारी )  

10 टिप्‍पणियां:

संदीप पवाँर (Jatdevta) ने कहा…

तूफ़ान के बारे में अमूल्य जानकारी आपने बतायी है।

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

जल प्रवाह, हों सब जन रक्षित।

musafir ने कहा…

Prakriti ka prachand roop

ई. प्रदीप कुमार साहनी ने कहा…

आपकी पोस्ट बुधवार (31-10-12) को चर्चा मंच पर | जरूर पधारें | सूचनार्थ |

SM ने कहा…

beautifully explained

रविकर ने कहा…

तांडव शंकर दे मचा , नचा विश्व परिदृश्य |
विशिष्ट ऊर्जा जल भरे, करे जलजला पृश्य |
करे जलजला पृश्य, दृश्य नहिं देखा जाए |
जल जाए जब जगत, हजारों जाने खाए |
क्षिति जल पावक गगन, वायू से मंच पांडव |
छेड़ छाड़ कर बंद, नहिं तो झेले तांडव ||

रविकर ने कहा…

उत्कृष्ट प्रस्तुति का लिंक लिंक-लिक्खाड़ पर है ।।

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

बहुत अच्छे से जानकारी दी है .... इंसान के अंदर भी तूफान उठते हैं .... सब संतुलित रहे यही प्रार्थना है

Anita ने कहा…

उपयोगी पोस्ट !

सदा ने कहा…

बहुत ही अच्‍छी प्रस्‍तुति

सादर